Top Trending Education News In Hindi 2022 | शिक्षा समाचार हिंदी में 2022

Education News In Hindi 2022



Education News
आंगनवाड़ी सुपरवाइजर भर्ती कब है?

ताजा ख़बर (मई 2021) – उत्तर प्रदेश आंगनवाड़ी भर्ती 2021 : 53000 आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, मिनी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और आंगनवाड़ी सहायकों पदों को 11 जून 2021 से पहले भरा जाएगा।

आंगनवाड़ी में फॉर्म भरने की लास्ट डेट क्या है?

इच्छुक और योग्य उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट balvikasup.gov.in पर जाकर निर्धारित प्रारूप में आवेदन कर सकते हैं। एप्लीकेशन फॉर्म जमा करने की आखिरी तारीख 17 मई 2021 या उससे पहले तक है।

आंगनवाड़ी सुपरवाइजर में क्या काम करना पड़ता है?

सुपरवाइजर केन्द्रों की देखरेख करती है. इनका काम आंगनबाडी केन्द्रों का जाँच करना, केंद्र के लिए पोषाहार उपलब्ध करवाना, गर्भवती महिलाओं और बच्चों का समय पर टीकाकरण करवाना होता है. एक सुपरवाइजर का मुख्य काम आंगनबाडी केन्द्रों की देखरेख करना होता है.

Education News In Hindi 2022





आंगनवाड़ी फॉर्म कैसे भरें up 2022?

आवेदन करने के लिए सबसे पहले balvikasup.gov.in पर क्लिक करना होगा. लिंक पर क्लिक करने के बाद ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म पर क्लिक करें. फॉर्म पर क्लिक करें और जरूरी दिशा-निर्देश पढ़ने के बाद इसे भरें. आवेदन में जिले का नाम, ब्लॉक का नाम शैक्षणिक योग्यता सही से भरें।

राजस्थान आंगनवाड़ी सुपरवाइजर भर्ती कब निकलेगी?

Rajasthan Anganwadi Recruitment 2022 आवेदन फॉर्म संबंधित कार्यालय से या विभागीय वेबसाइट से प्राप्त किए जा सकते हैं. इस संबंध में विस्तृत जानकारी कार्यालय समय में कार्यालय से प्राप्त की जा सकती है.

आंगनवाड़ी सुपरवाइजर की क्या सैलरी है?

उत्तर प्रदेश आंगनवाड़ी सुपरवाइजर (up anganwadi supervisor salary) की सैलेरी शुरुवात में लगभग 20000 रूपए से शुरू होती है।

आंगनवाड़ी में फॉर्म भरने के लिए क्या क्या चाहिए?

ऑनलाइन आवेदन पत्र भरते समय आवेदिका को सभी आवश्यक विवरण भरना अनिवार्य है। अनिवार्य विवरणों (क्षेत्रों) को  *(तारांकित) चिन्ह से अंकित किया जाता है। आवेदन करने की प्रक्रिया पूर्णतः निःशुल्क है। चयन की कार्यवाही जनपद स्तर से सम्पादित की जानी है।

क्या आंगनवाड़ी भर्ती निकली है?

नवीनतम अपडेट 30 जनवरी 2021 को : प्रदेश के सभी जिलों में महिला एवं बाल विकास विभाग में एकीकृत बाल विकास सेवा (ICDS), उत्तर प्रदेश के अंतर्गत जल्द ही आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों की बम्पर भर्ती की जाएगी। … राधा चौहान ने उप आंगनवाड़ी भर्ती 2021 हेतु आंगनवाड़ी कार्यकत्री चयन प्रक्रिया का पुनर्निर्धारण कर दिए है।

आंगनवाड़ी फॉर्म की डेट कब तक है?

आंगनबाड़ी भर्ती 2021 उत्तर प्रदेश : बिजनौर, शामली और कुशीनगर जिला के लिए आंगनबाड़ी की भर्तियां शुरू, अंतिम तिथि: 06 & 12 जून 2021.

टॉप एजुकेशन न्यूज़ हिंदी 

आंगनवाड़ी भर्ती में कौन कौन से डॉक्यूमेंट लगते हैं?

  • उत्तर प्रदेश आंगनवाड़ी भर्ती के लिए आवश्यक दस्तावेज 2021
  • सभी शैक्षिक प्रमाण पत्र
  • अधिवास
  • पासपोर्ट साइज़ फ़ोटोग्राफ़
  • कार्यकर्ता, सहायक आदि के रूप में अनुभव प्रमाण पत्र
  • विधवा प्रमाणपत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • हस्ताक्षर
  • पात्रता प्रमाण पत्र
  • और अधिक जानकारी के लिए आधिकारिक वेबसाइट की जांच करे।

आंगनवाड़ी हेल्पर का क्या काम होता है?

आँगनवाड़ी भारत में ग्रामीण माँ और बच्चों के देखभाल केंद्र है। बच्चों के भूख और कुपोषण से निपटने के लिए एकीकृत बाल विकास सेवा कार्यक्रम के भाग के रूप में, 1975 में उन्हें भारत सरकार द्वारा शुरू किया गया था। इस प्रकार का आँगनवाड़ी केंद्र भारतीय गाँवों में बुनियादी स्वास्थ्य देखभाल प्रदान करता है।

सुपरवाइजर मतलब क्या होता है?

पर्यवेक्षक: पर्यवेक्षक संस्कृत (विशेषण) किसी कार्य को समुचित तरीके से निगरानी या देखरेख करने वाला ; चारों तरफ़ नज़र रखने वाला ; पर्यवेक्षण करने वाला ; प्रेक्षक ; (सुपरवाइज़र)।

आंगनवाड़ी में नौकरी कैसे लगती है?

आंगनबाड़ी के विभिन्न पदों पर ऑनलाइन आवेदन करने के लोग सबसे पहले विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट www.wcd.nic.in पर जाएं। आंगनबाड़ी की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाने के बाद अप्लाई लिंक पर क्लिक करें। आंगनबाड़ी का फॉर्म भरें। आंगनबाड़ी फॉर्म भरने के बाद संबधित डॉक्यूमेंट्स अपलोड करें।

सुपरवाइजर की स्पेलिंग क्या होगी?

Supervisor

आंगनवाड़ी में कौन कौन से पद होते हैं?

  • योजना को संचालित करने वाले मुख्य पद
  • सीडीपीओ (सरकारी पद) .
  • सुपरवाइजर (सरकारी पद) .
  • आंगनबाड़ी कार्यकर्ती (संविदा पद) .
  • आंगनबाड़ी सहायिका (संविदा पद) .

आंगनवाड़ी केंद्र पर कुल कितनी सेवाएं दी जाती है?

आंगनवाड़ी द्वारा प्रदान की जाने वाली प्रमुख सेवाएँ हैं : अनुपूरक आहार, टीकाकरण स्वास्थय जाँच और आगे अस्पतालों को भेजना, स्वास्थय एवं पोषण शिक्षा तथा 3 से 6 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए विद्यालय पूर्व शिक्षा।

Latest Education News In Hindi

आंगनबाड़ी सेविका का सैलरी कितना है?

नीतीश कैबिनेट ने आंगनबाड़ी सेविकाओं का मानदेय 3 हजार रुपए से बढ़ाकर 4500 रुपए प्रतिमाह कर दिया है। सहायक सेविका का मानदेय 2250 रुपए से बढ़ाकर 3500 रुपए और सहायिकाओं का मानदेय 1500 रुपए से बढ़ाकर 2250 रुपए प्रतिमाह कर दिया गया है। इसके अलावा सहायिकाओं को अतिरिक्त राशि के तौर पर 250 रुपए दिए जाएंगे।

आंगनबाड़ी में बच्चों को क्या क्या मिलता है 2022?

  • ट्रांजिशन पीरियड में लाभार्थियों को मिलने वाला राशन इस प्रकार है-
  • अति कुपोषित बच्‍चों को हर महीने 2.5 किलो गेहूं, 1.5 किलो चावल, 500 ग्राम दाल। …
  • 6 माह से 3 साल के बच्चों को हर महीने 1.5 किलो गेहूं, 1 किलो चावल, 750 ग्राम दाल। …
  • 3 साल से 6 साल के बच्चों को हर महीने 1.5 किलो गेहूं, 1 किलो चावल।
  • गर्भवती और धात्री महिलाओं को हर महीने 2 किलो गेहूं, 1 किलो चावल, 759 ग्राम दाल। साथ ही हर तीन महीने पर 450 ग्राम घी और 750 ग्राम स्‍कि‍म्‍ड मिल्‍क पाउडर।

आंगनबाड़ी में क्या मिलता है?

संक्षेप में कहें तो आंगनबाड़ी केंद्र गांवों में बुनियादी स्वास्थ्य प्रदान करते हैं। इन केंद्रों पर महिलाओं और बच्चों की नियमित रूप से स्वास्थ्य की जांच, टीकाकरण, सफाई और स्वास्थ्य, बच्चों को प्री-स्कूल एजुकेशन की जानकारी दी जाती है।

Latest Education News

आंगनबाड़ी में सहायिका क्या करती है?

आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं का सबसे महत्वपूर्ण काम होता है नियमित रूप से बच्चे का वजन लेना और ज़रूरत के अनुसार पूरक आहार देना। इसकी तुलना में पोषण की जानकारी देना ज्यादा महत्वपूर्ण हिस्सा है। तीन साल की उम्र से कम के बच्चों को आई.सी.डी.एस. के कार्यकलापों से खास फायदा नहीं होता है।

यूपी में आंगनवाड़ी का वेतन कितना है?

UP Anganwadi Salary 2022 Post wise वेतन कितना मिलता है: जैसा कि आप सब जानते हैं उत्तर प्रदेश में 53000 नए पद आंगनवाड़ी के लिए सुनिश्चित किये गए हैं।

UP आंगनवाड़ी वेतन 2022

पद का नाम वेतन
Anganwadi Sevika salary रुपये 4000 – 8000
Mini Anganwadi Worker रुपये 3000 – 6000

Education News Today

बिहार में सेविका का मानदेय कितना है?

वहीं 1.25 लाख से अधिक आंनगबाड़ी सेविका, मिनी आंगनबाड़ी सेविका और सहायिका को क्रमश: 1150, 900 और 575 की जगह 1450, 1130 और 725 प्रतिमाह मिलेंगे। कैबिनेट ने इसकी मंजूरी दे दी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में शुक्रवार को हुई राज्य कैबिनेट की बैठक में कुल 64 प्रस्ताओं को मंजूरी दी गई

गर्भवती महिला को आंगनबाड़ी में क्या क्या मिलता है?

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के तहत प्रथम बार मां बनने वाली ​महिलाओं को 5000 रुपये की सहायता राशि मिलती है। इस योजना के लिए कुल 1187 आंगनबाड़ी केंद्र चुने गये हैं। इन केंद्रों की आंगनबाड़ी सेविका घर घर जाकर ऐसी गर्भवती महिलाओं को चिन्हित करने का काम कर रही हैं, जिन्हें योजना का लाभ दिया जाना है।

डिलीवरी के कितने दिन बाद पैसे मिलते हैं?

इसके बाद प्रसव के बाद महिला श्रमिकों को चिकित्सा के दौरान हुए खर्चे को पूरा करने के लिए 1000 हजार रूपये की राशि प्रदान की जाएगी । इसके अतिरिक्त Madhya Pradesh Government मातृत्व योजना का लाभ ले रही महिला कार्यकर्ता के पति को भी 15 दिनों का पितृत्व प्रसव लाभ प्रदान कर रही है .

Education News Updates

टांके कितने दिन में ठीक होते हैं?

ऑपरेशन के बाद लगभग छह सप्‍ताह के अंदर घाव पूरी तरह से ठीक होगा। इतने समय तक आपकाे थोड़ा सावधान रहने की जरूरत होती है। टांके को पूरी तरह से भरने दें ताकि कोई कठिन काम या भारी सामान उठाते समय इसमें खिंचाव न आए। शरीर को सही पोषण देकर घाव को भरने और स्‍वस्‍थ ऊतक बनाने में मदद मिल सकती है।

टांके में दर्द क्यों होता है?

बैक्‍टीरिया सी-सेक्‍शन के घाव या टांके वाली जगह पर पहुंच और फैल सकता है। इससे पेट में या गर्भाशय में संक्रमण हो सकता है। बैक्‍टीरियम स्‍टैफिलोकोकस ऑरियस सी-सेक्‍शन के घाव पर इंफेक्‍शन करने का सबसे आम कारण है।