क्या आप जानते हैं किसी की मृत्यु के बाद पैन और आधार कार्ड का क्या करना चाहिए?

WhatsApp Group Join Now

Telegram Group Join Now

Pan And Aadhaar Card : आधार कार्ड और पैन कार्ड भारत में अब एक अनिवार्य दस्तावेज के रूप में माने जाते हैं। फिर चाहें आपको स्कूल में अपने बच्चे का एडमिशन करवाना हो या फिर बैंक अकाउंट खुलवाना हो। ज्यादातर कामों के लिए आपको आधार कार्ड और पैन कार्ड की जरूरत पड़ती ही है लेकिन क्या आप जानती हैं कि किसी की मृत्यु के बाद भी इन डॉक्यूमेंट्स से जुड़ी हुई कई फॉर्मेलिटी होती हैं।

अगर आप मृत व्यक्ति के आधार कार्ड और पैन कार्ड से जुड़ी हुई फॉर्मेलिटी को पूरा नहीं करती हैं तो इससे आपको बाद में परेशानी का सामना भी करना पड़ सकता है। तो चलिए जानते हैं इन डॉक्युमेंट्स से जुड़ी हुई महत्वपूर्ण बातें।

पैन कार्ड से जुड़ी हुई प्रक्रिया

पैन कार्ड से जुड़ी हुई कई सारी चीजें होती हैं जैसे बैंक अकाउंट, आईटीआर आदि। इसलिए मृत व्यक्ति के पैन कार्ड को तब तक संभालकर रखना चाहिए जब तक इस तरह के सभी अकाउंट्स पूरी तरह से बंद न हो जाएं। आपको बता दें कि यदि मृतक का कोई भी टैक्स रिफंड चुकाना बाकी है तो आपको यह सुनिश्चित कर लेना चाहिए कि उसके खाते में रिफंड आ जाए।

सभी खातों को बंद करने और आयकर रिटर्न से जुड़े सारे मामले निपटने के बाद कानूनी उत्तराधिकारी मृतक व्यक्ति के पैन को आईटी विभाग को सौंप सकता है। इसके अलावा आपको इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल करने से लेकर आईटी डिपार्टमेंट की सभी प्रक्रिया को भी पूरा करके ही पैन को आईटी विभाग में सबमिट करना चाहिए।

अगर पैन को सरेंडर करना है तो इसके लिए मृतक के कानूनी उत्तराधिकारी को अधिकारिक असेसमेंट ऑफिसर को एक एप्लीकेशन लिखना होगा। इस एप्लीकेशन में पैन कार्ड सरेंडर करने का कारण भी कानूनी उत्तराधिकारी को लिखना होगा।

आपको बता दें कि पैन कार्ड सरेंडर करना अनिवार्य नहीं होता है। लेकिन बेहतर यही है कि आप इसे सरेंडर करवा दें ताकि मृतक व्यक्ति से जुड़ी हुई पैन कार्ड की जानकारी का कोई गलत यूज ना कर पाए।

आधार कार्ड से जुड़ी हुई प्रक्रिया

आधार कार्ड सबसे जरूरी डॉक्युमेंट्स में से एक होता है। आपको बता दें कि किसी व्यक्ति की मृत्यु के बाद आधार को डीएक्टिवेट करने का कोई प्रावधान नहीं है। कोई अन्य व्यक्ति आधार का गलत यूज ना करें इसके लिए आपको डेथ सर्टिफिकेट से लिंक करवाना चाहिए।

तो ये थी जानकारी आधार कार्ड और पैन कार्ड से जुड़ी हुई जानकारी। अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ। इस आर्टिकल के बारे में अपनी राय आप हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।