WhatsApp Group Join Now

Telegram Group Join Now

Number System In Hindi Trick PDF Download | संख्या पद्धति के सूत्र परिभाषाएं

Number System In Hindi Trick PDF Download

Number System In Hindi Trick PDF Download

Number System In Hindi Trick PDF Download भारत के सभी राज्यों के द्वारा आयोजित किये जाने योग्यता परीक्षा की सफल तैयारी करने के लिए महत्वपूर्ण सामान्य ज्ञान (Important GK) जनरल नॉलेज 2019 (General Knowledge 2019) हेतु डेली रोजगार बज्ज (Daily Rojgar Buzz) के द्वारा जारी इंट्रेस्ट एग्जाम (Entrance Exam) में भाग लेने वाले अभ्यार्थी (युवक/युतियों) की परीक्षा की तैयारी हेतु विज्ञान (Science) कला(Arts),कृषि समूह(Agricultural Group)-रसायन (Chemistry), जीवविज्ञान(Biology), भौतिकी(Physics), इतिहास(History), राजनीति विज्ञान (Political Science),समाजशास्त्र (Sociology), भूगोल (Geography etc) से जुडी जीके क्विज (GK Quiz), मॉक टेस्ट ( Mock Test), Number System In Hindi Trick PDF Download 2019 सामान्य ज्ञान (Samanya Gyan) रोजगार समाचार भर्ती परीक्षा के सफलता के लिए लेटेस्ट GK 2019 ऑनलाइन फ्री (Online Free) अध्ययन (Study) करे ।

Maths General Knowledge In Hindi

सरकारी नौकरी (Govt Job Bharti) रोजगार समाचार (Rojgar Samachar Free Job Alert) एवं महत्वपूर्ण सामान्य ज्ञान की फ्री जानकारी पाने के लिए हमारे Whatsapp Group Join करे…!!

आइए… एक उज्ज्वल कैरियर के लिए Daily Rojgar Buzz टीम के साथ

Latest GK Quiz Mock Test

विज्ञान से जुडी महत्वपूर्ण तथ्य

संख्या पद्धति (Number System Formula Trick PDF) : Number System in Hindi GK हम जानते है कि किसी भी संख्या को लिखने के लिए निम्नलिखित 10 अंको का उपयोग किया जाता है और वह अंक है – 0, 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9.

संख्याओं को दर्शाने की कई प्रणाली है हम कही तरह से संख्याओं को लिख सकते है किसी भी संख्या को लिखने हम इकाई, दहाई, सैकड़ा, हजार, दस-हजार, लाख, दस-लाख, करोड़, दस-करोड़ आदि तरीके से लिखते है | यह सबसे अधिक प्रचलित प्रणाली है | 0, 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9. इनके हम अंक कहते है जिनका उपयोग हम किसी संख्या को दर्शाने के लिए करते है |

Number System in Hindi संख्या पद्धति

प्राकृत संख्याएं :- जैसे 1,2,3,4,5……..∞
पूर्ण संख्याएं :- जैसे 0,1,2,3,4,5…….
पूर्णाक संख्याएं :- जैसे -5,-4,-3,-2,-1,0,1,2,3,4,5……..
सम संख्याएं :- जैसे 2,4,6,8,10,12 आदि
विषम संख्याएं :- जैसे 1,3,5,7,17,21 आदि
भाज्य संख्याएं :- जैसे 4,12,16,21 आदि
अभाज्य संख्याएं :- जैसे 2,3,5,7,11,13 आदि
परिमेय संख्याएं :- जैसे 3/5 , 7/9आदि
अपरिमेय संख्याएं :- जैसे आदि √5,
वास्तविक संख्याएं :- जैसे 227, π, 2,3,217आदि

संख्याओं की परिभाषा (Number System in Hindi)

प्राकृत संख्याएं :- वे संख्याएँ, जिनसे वस्तुओ की गणना की जाती है उन्हें प्राकृत संख्याये कहते है | प्रकृत संख्याएँ धनात्मक होती है | अतः 1 सबसे छोटी प्रकृत संख्या है |
जैसे:- 1,2,3,4,5……..∞
इनके ‘N’ से प्रदर्शित किया जाता है |
नोट – शून्य को प्रकृत संख्या नहीं माना जाता है |

पूर्ण संख्याएं :- यदि प्राकृत संख्याओ में शून्य (0) को भी सम्मिलित कर लिया जाये तो उन संख्याओ को पूर्ण संख्याएँ करते है |
जैसे 0,1,2,3,4,5…….
इन्हे ‘W’ से प्रदर्शित किया जाता है |

पूर्णाक संख्याएं :- पूर्णाक संख्याओ में ऋणात्मक संख्याओं को भी सम्मिलित करने पर जो संख्याएँ प्राप्त होती है उन्हें पूर्णाक संख्याएँ करते है
जैसे -5,-4,-3,-2,-1,0,1,2,3,4,5……..
इन्हे ‘I’ से प्रदर्शित किया जाता है |

I+ = 0,1,2,3,4,5…….. को धनात्मक पूर्णांक कहते है |

I– = -1,-2,-3,-4,-5…….. को ऋणात्मक पूर्णांक कहते है |

शून्य (0) न तो धनात्मक है और न ही ऋणात्मक |

सम संख्याएं :- वे संख्याएँ जो 2 से पूर्णतया विभाजित हो जाती है | सम संख्याएँ कहलाती है |

जैसे 2,4,6,8,10,12 आदि

विषम संख्याएं :- वे संख्याएँ जो 2 से पूर्णतया विभाजित नहीं होती है |विषम संख्याएँ कहलाती है |

जैसे 1,3,5,7,17,21 आदि

भाज्य संख्याएं :- वे संख्याये जिनका 1 व स्वय के अतिरिक्त कम-से-कम एक और गुणनखंड होता है भाज्य संख्याएँ कहलाती है |

जैसे 4,12,16,21 आदि

नोट :- भाज्य संख्याएँ सम एवं विषम दोनों हो सकती है |

अभाज्य संख्याएं :- वे संख्याये जिनका 1 व स्वय के अतिरिक्त कोई और अन्य गुणनखंड न हो अभाज्य संख्याएँ कहलाती है |

जैसे 2,3,5,7,11,13 आदि

परिमेय संख्याएं :- वे संख्याये जिन्हे p/q के रूप में दर्शाया जा सकता है परिमेय संख्या कहलाती है |

जैसे 3/5 , 7/9आदि

प्रत्येक पूर्णांक संख्या एक परिमेय संख्या है |

अपरिमेय संख्याएं :- वे संख्याये जिन्हे p/q के रूप में व्यक्त नहीं किया जा सकता है अपरिमेय संख्या कहलाती है |

जैसे π , √2, √5, √7 आदि

π एक अपरिमेय संख्या है |

वास्तविक संख्याएं :- परिमेय एवं अपरिमेय संख्याओं को सम्मिलित रूप से वास्तविक संख्याएं कहते है |

जैसे 22/7, π, ,√2,√3,21/5 आदि

इन्हे ‘R’ से प्रदर्शित किया जाता है |

याद रखने योग्य बातें
लगातार n तक की प्राकृत संख्याओं का योग = n(n+1 )/ 2
लगातार n तक की प्राकृत संख्याओं के वर्गों का योग = n( n+1 )( 2n+1 ) / 6
लगातार n तक की प्राकृत संख्याओं के घनो का योग = {n( n+1 )/2 } 2
लगातार n सम संख्याओं का योग = ( n+1 )
लगातार n विषम संख्याओं का योग = n 2

इस पोस्ट में नंबर सिस्टम (Number System ) यानि कि संख्या पद्धति के बारे में समस्त जानकारी दी गयी है आप समस्त जानकारी को ध्यान से पढ़े तथा गणित के सवालो को दी गयी Number System Trick के माध्यम से हल करें | हमे उम्मीद है आप संख्या पद्धति (Number System in HIndi) के सवालो को आसानी से हल कर पाओगे | संख्या पद्धति के सूत्र (Number System Ganit Formula ) के दिए गए है जो सवालो को हल करने में मदद करते है |

संख्या पद्धति : सूत्र, Trick, PDF

विभागीय विज्ञापन /आवेदन लिंक

Maths Trick in Hindi  Click Here
सरकारी पदों पर बंफर भर्तियां Click Here
गणित की Book यहां से डाउनलोड करें  Click Here
Latest Govt Jobs  Click Here
Admit Card  Click Here
Chhattisgarh  Click Here
All India  Click Here

महत्वपूर्ण गणित CK ट्रिक

आयु सम्बन्धी प्रश्न एवं सूत्र  
औसत (Average) के सवाल एवं सूत्र  
संख्याओं पर आधारित प्रश्न  
समय एवं कार्य के सवाल सूत्र  
वर्ग एवं वर्गमूल के सवाल एवं सूत्र  
लाभ एवं हानि के सूत्र  
Maths Book download Here Download Here

निवेदन:- आप सभी से अनुरोध है कि इस रोजगार समाचार विज्ञापन को अपने दोस्तों को Whatsapp अन्य सोशल नेटवर्क पर अधिक से अधिक शेयर करें और उनको भी अच्छा रोजगार पाने में उनकी मदद करें।

Leave a Comment

Join Telegram Join Whatsapp